भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petroleum Technology (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

शब्दकोश के परिचयात्मक पृष्ठों को देखने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करें
Please click here to view the introductory pages of the dictionary

Horse-power

अश्व शक्ति: अश्वशक्ति-550 ft=1b/sec 745.7 वाट (W) इसके अंतर्गत निम्नलिखित आति हैं :–

Houdrisid catalytic cracking

हाउड्रीसिड उत्प्रेरकी भंजन: यह हाइड्रो कम्पनी द्वारा प्रचालित एक सतत गतिमान संस्तर-प्रक्रम है। इसमें उत्प्रेरक के सहयोग से अवशेष (कच्चे) तेल का भंजन किया जाता है जिससे उच्च ऑक्टेन संख्या वाली गैसोलीन और हल्के आसुत ईंधन उत्पन्न होते हैं।

Houdriflow catalytic cracking

हाउड्रीफ्लो उत्प्रेरकीभंजन: हाउड्रो कम्पनी द्वारा प्रचालित एक सतत, गतिमान संस्तर उत्प्रेरक भंजन प्रक्रम जिसमें रिऐक्टर और पुनर्जनित्र के लिए एक ही पात्र का प्रयोग किया जाता है। उत्प्रेरक को गैस-उत्थापन (जिसमें भाप और दाबयुक्त फ्लू गैस प्रयुक्त होती है) के द्वारा यूनिट के तल से शीर्ष तक ले जाया जाता है।

Houdry forming

हाउड्री फामिंग: एक सतत उत्प्रेरकी संभावन प्रक्रम जिसमें कम ऑक्टेन संख्या वाले ऋजुधाव नैफ्था से उच्च ऑक्टेन संख्या वाला गैसोलीन और ऐरोमेटिक सांद्र बनाये जाते हैं।

Houdry butane dehydrogenation

हाउड्री ब्यूटेन विहाइड्रोजनन: हाउड्री ब्यूटेन विहाइड्रोजनन एक उत्प्रेरकी प्रक्रम है जिसमें हल्के हाइड्रोकार्बनों का विहाइड्रोजनन होता है और संबंधित मोनो या डाइओलिफिन बनते हैं। निष्क्रिय पदार्थों के साथ क्रोमिया-ऐलुमिना उत्प्रेरक गुटिकाओं के रूप में प्रयुक्त होता है।

Houdry fixed bed catalytic cracking

हाउड्री स्थिर संस्तर उत्प्रेरकी भंजन: एक चक्रीय पुनर्जनन प्रक्रम जिसमें आसुतों को भंजित किया जाता है। इसमें संश्लेषित या प्राकृतिक उत्प्रेरकों का प्रयोग होता है।

Houdry hydro cracking

हाउड्री हाइड्रोजनी भंजन: एक उत्प्रेरकी प्रक्रम जिसमें हाइड्रोजन की उपस्थिति में भंजन और विगंधकन साथ-साथ होता है। सिलिका ऐलुमिना पर निकैल ऑक्साइड या निकैल सल्फाइड और ऐलुमिना पर कोबाल्ट मोलिब्डेट उत्प्रेरक का कार्य करता है।

Hydrafac

हाइड्राफेक (द्रवचालित भंजन): एक संक्रिया का व्यावसायिक नाम जिसमें उत्पादक शैल-समूह, द्रव चालित दाब द्वारा तोड़ा जाता है ताकि अधिक उत्पादन किया जा सके।

Hydraulic fluid

द्रवचालित तरल: द्रवचालित तंत्रों में प्रयुक्त एक तरल। कम श्यानता ताप के साथ श्यानता में कम परिवर्तन और कम बहाव बिंदु इस तरल के वांछित गुण हैं। द्रवचालित तरलों का स्रोत पेट्रोलियम या अन्य पदार्थ हो सकता है।

Hydrazine

हाइड्रैजीन: हाइड्रैजीन हाइड्रेट के निर्जलन द्वारा बनाया गया रंगहीन द्रव। इसका उपयोग राकेट ईंधन विलायक, अपचायक और रासायनिक मध्यवर्ती के रूप में होता है।

Hydrocarbon

हाइड्रोकार्बन: हाइड्रोजन और कार्बन के यौगिक। सामान्य ताप पर सरल हाइड्रोकार्बन गैसीय होते हैं। किंतु अणुभार में वृद्धि के साथ-साथ ये द्रव और अन्त में ठोस अवस्था में पाये जाते हैं। ये पेट्रोलियम के मुख्य संघटकों का निर्माण करते हैं।

Hydrocodimer

हाइड्रोसहद्वितय: उच्च ऑक्टेन संख्या वाले संतृप्त मिश्रण कर्मक जो सह-द्वितय (कोडइमर) के हाइड्रोजनन से उत्पन्न होते हैं।

Hydrocol process

हाइड्रोकाल प्रक्रम: एक उत्प्रेरकी प्रक्रम जिसके द्वारा प्राकृत गैस अपरिष्कृत तेल, ईंधन तेल और कोयले से गैसोलीन व अन्य उत्पाद संश्लेषित किये जाते हैं।

Hydrocracking

हाइड्रोजनी भंजन: हाइड्रोजन की उपस्थिति में हाइड्रोकार्बन का भंजन। इस प्रक्रम में भंजन या ताप अपघटन के साथ हाइड्रोजनन भी होता है। इसके भरण स्टॉक में अपरिष्कृत तेल, पेट्रोलियम टार और ऐस्फाल्ट हो सकते हैं।

Hydrodesulpurisation

हाइड्रोजनी विगंधकन: एक प्रक्रम जिसमें तेल को हाइड्रोजन की उपस्थिति में गर्म करके गंधक यौगिकों को तेल से निकाला जाता है।

Hydrofining

हाइड्रोजनी परिष्करण: हाइड्रोजन और उत्प्रेरक की उपस्थिति में हाइड्रोकार्बन का परिष्करण तथा आंशिक संतृप्तिकरण।

Hydroformate

हाइड्रोसंभवन उत्पाद: हाइड्रोसंभवन प्रक्रम से उत्पन्न उत्पाद।

Hydroforming

हाइड्रोसंभवन: एक प्रक्रम जिसमें अतिरिक्त हाइड्रोजन या हाइड्रोजन गैस की उपस्थिति में ऐरोमैटिक यौगिकों को बनाने के लिए उच्च ताप और साधारण दाब पर नैफ्था को ठोस उत्प्रेरक के ऊपर प्रवाहित कर उच्च ऑक्टेन संख्या युक्त मोटर ईंधन या ऐरोमैटिक यौगिक बनाए जाते हैं।

Hydroforming bottom

हाइड्रोसंभवन अवशेष: ऐल्किलीकृत नैफ्थलीन और भारी ऐरोमैटिक यौगिकों से युक्त अवशेष प्रभाज।

Hydrogen

हाइड्रोजन: परिष्करणी प्रचालनों में नैफ्था के पुनः संभावन प्रक्रम से प्राप्त या मेथेन के वाष्प या तापीय विघटन द्वारा बनाई गई रंगहीन गैस। इसका उपयोग अमोनिया और मेथिल ऐल्कोहॉल के निर्माण में तथा असंतृप्त हाइड्रोकार्बनों के हाइड्रोजनन में होता है।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App