भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Metallurgy (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous1234567891617Next >

Sack mill

सैक मिल
देखिए– Universal mill

Sacrificial anode

उत्सर्ग ऐनोड
यशद, मैग्नीशियम या इस्पात की छड़ या चादर जिन्हें कभी-कभी संक्षारण वस्तु भी कहते हैं उत्सर्जित हो कर ऐसी धातु की रक्षा करती है जिसका अन्यथा संक्षारण हो जाता है।
देखिए– Cathodic protection भी।

Sacrificial corrosion

उत्सर्गी संक्षारण
यह परिघटना जिसमें किसी धातु की, दूसरी धातु की कीमत पर संक्षारण से रक्षा की जाती है। दूसरी धातु पहली की अपेक्षा विद्युत रासायनिक श्रेणी में विद्युत ऋणी होती है। उदाहरणार्थ जस्तेदार लोहे में छोटी सी दरार होने पर वायुमंडलीय नमी की उपस्थिति में साधारण गैल्वेनी सेल बन जाता है। इसमें जस्ता विलयन में चला जाता है जबकि लोहा असंक्षारित रहता है। इस प्रकार जस्ता स्वयं को उत्सर्ग कर लोहे को संक्षारित होने से बचाता है।

Sacrificial protection

उत्सर्गी रक्षण
यशद आदि कुछ धातुओं का गुण विशेष जिसका लेप चढ़ाकर लोहे या इस्पात को जंग लगने से बचाया जाता है। यह आवश्यक नहीं कि यह लेप संपूर्ण सतह को ढके। बिना लेपित किसी भाग पर यदि जंग लगती है तो उसका बचाव स्वयं संक्षारण-उत्पादों द्वारा हो जाता है।

Saddening

स्वल्पपारण
दाब मिल अथवा बेलन मिल में अथवा घन द्वारा पिंड पर लगातार हल्के प्रहार करना। इस क्रिया का उद्देश्य त्वचा को तोड़ना है ताकि भारी यूनन के लिए पुनर्तपिन से पहले स्थूल क्रिस्टलीय संरचना के कारण उत्पन्न आरंभिक भुरभरेपन को हटाया जा सके।

Salamander

सैलामेंडर
धातु की वह मात्रा जो धमन भट्टी के बुझने के बाद हार्थ के तल में पाई जाती है। यह पिघले लोहे और भट्टी के तल के उच्चतापसह पदार्थ की क्रिया से बनती है। इसका गलनांक बहुत अधिक होता है इस कारण यह भट्टी में इकट्ठा होती जाती है और इसकी मात्रा बढ़ती जाती है। इसे बियर (Bear) भी कहते हैं।

Saleable steel

बिक्री योग्य इस्पात
इस्पात के पिंड, ब्लूम, बिलेट, अर्धपरिसज्जित अथवा परिसज्जित संरचनाएँ (कोण, आकृतियाँ, खंड) जिन्हें बाजार में बिक्री के लिए भेजा जाता है। इन उत्पादों के परित्यक्त अंश को बिक्री योग्य इस्पात नहीं कहते। इस अंश को स्क्रेप के रूप में बेच दिया जाता है अथवा इस्पात बनाने के लिए पुनः संयंत्र में भेज/ डाल दिया जाता है।

Salge metal

साल्गे धातु
कम घर्षण वाला यशद मिश्रातु जिसमें 10 प्रतिशत वंग, 1 प्रतिशत सीसा और 4 प्रतिशत तांबा होता है। इसका उपयोग बेयरिंगों में होता है।

Salt bath

लवण अवगाह
एक अवगाह जिसमें लवणों का मिश्रण होता है। इसका उपयोग धातुओं और मिश्रातुओं के ऊष्मा-उपचार के उद्देश्य से उनके तापन अथवा नियंत्रित-शमन के लिए होता है। भिन्न तापों पर भिन्न लवण इस्तेमाल किए जाते हैं। उदाहरणार्थ पायन के लिए सोडियम और पोटैशियम नाइट्रेट तथा कठोरण के लिए सोडियम सायनाइट और सोडियम, पोटेशियम, बेरियम और कैल्सियम के क्लोराइडों का प्रयोग किया जाता है।

Salt bath furnace

लवण अवगाह भ्राष्ट्र
गलित लवण के कुंड को रखने के लिए प्रयुक्त एक भ्राष्ट्र। लवण को गलाने के लिए आवश्यक ऊष्मा, विद्युत प्रतिरोध द्वारा उत्पन्न की जाती है। इसमें ऊष्मा-उपचार ब्रेजन आदि के लिए धातु की वस्तुओं को डुबाया जाता है।

Salt fog test

लवण कुहासा परीक्षण
देखिए– Salt spray test

Salt spray test

लवण फुहार परीक्षण
एक त्वरित संक्षारण परीक्षण जिसके कई रूपांतर हैं। इसमें नमूने को एक कक्ष में रखकर उसमें 3-20 प्रतिशत सोडियम क्लोराइड युक्त पानी की बारीक फुहार प्रवाहित की जाती है। पानी की फुहार नमूने पर सीधे नहीं टकराती। यह फुहार 12 या 24 घंटों में एक बार अथवा 5-6 घंटों तक लगातार प्रवाहित की जाती है। यह परीक्षण हवा में उद्भासित वस्तुओं के मूल्यांकन अथवा विद्युतनिक्षेपित धातु लेपों के लिए किया जाता है। इसे लवण कुहासा परीक्षण भी कहते हैं।

Sampling

प्रतिचयन
संघटन और अन्य गुणधर्मों के मूल्यांकन के उद्देश्य से किसी पदार्थ के बृहत अंश से कुछ मात्रा निकालना जो बृहत अंश का सही प्रतिनिधित्व करती है।

Sampling spoon

प्रतिदर्शी चम्मच
भट्टी अथवा लैडल से गलित धातु अथवा धातु अथवा धातुमल का नमूना निकालने के लिए प्रयुक्त औजार। यह मृदु इस्पात की गोल छड़ को फोर्जित करके बनाया जाता है और कटोरे के आकार का होता है। इसे मृदु इस्पात की लंबी छड़ के बने हैंडल के साथ वेल्ड कर दिया जाता है। नमूना लेने से पहले चम्मच को भट्टी में सुखा कर उस पर धातुमल का लेप कर दिया जाता है। तत्पश्चात् अवगाह से धातु का नमूना लिया जाता है।

Sand

बालू
मुख्यतः क्वार्ट्ज, अभ्रक, फेल्सपार के असंयुक्त और असंसक्त कण जो लंबी अवधि तक चट्टानों पर हवा, धूप और वर्षा के प्रभाव से बनते हैं। शुद्ध बालू केवल सिलिका (SiO₂ ) होता है और उसका रंग श्वेत होता है। वह अत्यंत उच्चतापसह होता है किंतु अल्प मात्रा में अपद्रव्यों की उपस्थिति से संकचन-ताप पर संगलित भी हो सकता है। इस कारण अपद्रव्ययुक्त बालू से दोषपूर्ण संचक बनते हैं।
पृष्ठक बालू (Backing sand)– फलक-बालू को आधार देने के लिए प्रयुक्त पुनरानुकूलित (Reconditioned) बालू जिससे साँचे का मुख्य भाग बनाया जाता है। इसे भरक बालू भी कहते हैं।
शुष्क बालू (Dry sand)– गैस टॉर्च अथवा अन्य स्रोत से प्राप्त ज्वाला से सुखाई गई बालू।
फलक-बालू (Facing sand)– बारीक कणों की बालू जिसका प्रयोग साँचे के पृष्ठों पर किया जाता ह जिससे वह संचक के सीघे संपर्क में रहती है। बंधक गुणों में सुधार लाने और साँचे को चिकना बनाने के उद्देश्य से इसमें मृदा, शीरा आदि मिलाए जाते हैं। किंतु गैसों के निकलने के लिए यह पर्याप्त संरध्र तथा साँचे से संचक के निष्कासन के लिए पर्याप्त उच्चतापसह होनी चाहिए।
नम बालू (Green sand)– बिना सुखाए साँचों मे प्रयुक्त होने वाली बालू। यह पिसी बालू और कोक धूलि का मिश्रण होता है जिसे गीलाकर साँचे में ढाल दिया जाता है किंतु पकाया नहीं जाता। कभी-कभी पैटर्न को हटाने के बाद साँचे के पृष्ठ पर बुरुश द्वारा ज्वलनशील आलेप लगाया जाता है जिसे जलाने पर पृष्ठ कठोर बन जाता है। नम बालू में ये विशेषताएँ होनी चाहिए– (1) यह अच्छी तट-बालू हो। (2) इसमें कणों को आपस में बाँधने के लिए मृदा की मात्रा कम से कम हो (3) यह पर्याप्त सरंध्र हो ताकि साँचे में गलित धातु डालने पर गैसें बाहर निकल सकें।
दुमट-बालू (Loam sand)– गाद और मृदा मिली बालू जिसका उपयोग बालू के साँचों में आधार- पदार्थ के रूप में होता है।
विशिष्ट- बालू (Special sand) –विशिष्ट संचकों के विनिदेशों की पूर्ति के लिए आवश्यक विशेष प्रकार की बालू। यह बालू और योज्यों को मिलाकर बनाई जाती है।

Sandberg treatment

सैंडबर्ज उपचार
सॉर्बाइटी उपचार जिसमें कार्बन इस्पात घटकों को पूर्णतया अथवा अंशतः साधारण कठोर बनाया जाता है। इसमें वायु-प्रधार, भाप अथवा जल की फुहार का उपयोग कर कठोर किए जाने वाले घटक को शीघ्रता से रूपांतरण-परास पर ठंडा करने के बाद उसे वायु में ठंडा होने दिया जाता है जिससे घटक में उपस्थित अवशिष्ट ऊष्मा के कारण उसमें टैंपरन प्रभाव उत्पन्न हो जाता है।

Sand blasting

बालू-क्षेपण
पेंट, धातु-फुहारण आदि क्रियाओं से पहले धातु पृष्ठों से शल्क या पेंट आदि हटाने के उद्देश्य से उन पर वायु जेट-द्वारा बालू फेंककर साफ करना। इसके फलस्वरूप विरूपण, पृष्ठ-कठोरण आदि हुए बिना धातु का पृष्ठ साफ हो जाता है।

Sand buckle

बालू-आकोच
संचक के पृष्ठ पर पाया जाने वाला अनियमित आकार का उभार। इसे आसानी से हटाया जा सकता है और हटाने पर हल्का गर्त बन जाता है। इसमें संच-मुख से ली गई बालू की पर्याप्त मात्रा रहती है। इसे बालू-स्कैब भी कहते हैं।

Sand burning

बालू ज्वलन
ढाली जाने वाली धातु की अत्यधिक गरमी के कारण बालू के मुख-पृष्ठ का जल जाना।

Sand casting

बालू संचकन
देखिए– Casting
< previous1234567891617Next >

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App