भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Pustakalaya Vigyan Paribhasha Kosh (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

canon of exhaustiveness

निःशेषता अभिनियम
वर्गों की पंक्ति में वर्गों का अपनी निकटतम समष्टि के पूर्ण रूप से निःशेष हो जाना।

canon of expressiveness

अभिव्यंजकता अभिनियम
प्रत्येक लक्षण का अभिव्यंजन उस अंक में होना चाहिए जिससे वर्ग संख्या का निर्माण किया जाए।

canon of favoured sequence

वांछित अनुक्रम अभिनियम
वर्ग क्रम में वर्ग का कोई भी स्थान होने पर भी स्थान होने पर भी उसे प्राथमिकता देना।

canon of helpful sequence

अनुकूल अनुक्रम अभिनियम
पंक्ति में वर्गों का उन सबके अनुकूल होना जिनके वे अभीष्ट हों।

canon of hierarchical notation

श्रेणीबद्ध अंकन अभिनियम, क्रम परंपरित अंकन अभिनियम
ऐसा अंकन जो यह बताए कि दो शब्द एक ही पंक्ति या एक ही श्रृंखला के हैं।

canon of hospitality in array

पंक्तिगत ग्रहणशीलता अभिनियम
किसी पंक्ति में प्रस्तुत वर्ग संख्याओं में बाधा डाले बिना प्रत्येक वर्ग संख् में किसी भी स्थान पर असंख्या समकक्ष वर्गों को ग्रहण करने की क्षमता।

canon of hospitality in chain

श्रृंखलागत ग्रहणशीलता अभिनियम
किसी श्रृंखला की वर्ग संख्याओं में बाधा डाले बिना श्रृंखला के अंत में वर्ग संख्या की असंख्या समकक्ष वर्गों को ग्रहण करने का सामर्थ्य।

canon of individualization

व्यष्टित्व अभिनियम
किसी भी सत्ता का नाम जिसे सूची प्रविष्टि में शीर्षक रूप में शीर्षक रूप में व्यवहार किया जाता हो। उसे व्यष्टिकरण तत्वों द्वारा पूर्णरूपेण व्यष्टिकृत होना चाहिए।

canon of local variation

स्थानीय विभिन्नता अभिनियम
वर्गीकरण पद्धति में विशेष स्थानीय महत्व के लिए वैकल्पिक वर्ग क्रमों को रखने की व्यवस्था।

canon of mixed notation

मिश्र अंकन अभिनियम
वर्गीकरण की अंकन पद्धति में मिश्रित अंकों का प्रयोग करना।

canon of mnemonics

स्मरण युक्ति अभिनियम
किसी वर्ग संख्या के वियोजक संख्या में प्रयुक्त किसी विशिष्ट संकल्पना का प्रतिनिधित्व करने वाले अंक का उसी संकल्पना के सभी वर्ग संख्याओं या वियोजक संख्याओं में एक समान रहना, यदि इस संगति के प्रतिनिधित्व से कोई अत्यधिक महत्वपूर्ण आवश्यकता का उल्लंघन न होता हो।

canon of modulation

संक्रम अभिनियम
ज्ञान लोक से एक श्रृंखला के वर्गों के विभाजन की प्रत्येक श्रृंखला पर सही विश्लेषण क्षमता के आधार पर व्युत्पादित करना चाहिए।

canon of non-hierarchical notation

अश्रेणीबद्ध अंकन अभिनियम
प्रत्येक लक्षण का अभिव्यंजन उस अंक में नहीं होना चाहिये जिससे वर्ग संख्या का निर्माण किया जाए।

canon of permanence

अपरिवर्तनीयता अभिनियम
1. प्रविष्टि का कोई भी तत्त्व सूची संहिता के नियमों के अधीन तब तक परिवर्तित नहीं होना चाहिये जब तक स्वयं नियम में प्रसंग के उपसूत्र के कारण परिवर्तन नहीं हो जाते हैं।
2. ज्ञान लोक के वर्गीकरण के लिए जिस लक्षण का उपयोग किया गया हो वह उस समय तक अस्थाई एवं अपरिवर्तनीय रहना चाहिये जब तक वर्गीकरण के उद्देश्य में कोई परिवर्तन न हो।

canon of prepotence

प्रबलता अभिनियम
सूची में अनेक प्रविष्टियों के मध्य एक प्रविष्टि का स्थान निर्धारण के लिये, जहा तक संभव हो, प्रबलता (शक्ति या सशक्ता) को पूर्ण रूपेण अग्र अनुच्छेद में भी, जहां तक संभव हो, इसको (प्रबलता) प्रविष्टि तत्त्व में एकत्रित करना चाहिये। यदि अग्र अनुच्छेद में संपूर्ण एकत्रीकरण संभव न हो तो प्रबलता को न्यूनतम रूप से अगले अनुच्छेदों में जाने देना चाहिये और इतना ही नहीं, बल्कि प्रबलता का यह महत्व अगले अनुच्छेदों में तीव्रता के ह्रासमान अनुक्रम के सिद्धान्त पर आधारित होना चाहिये।

canon of pure not tion

शुद्ध अंकन अभिनियम
वर्गीकरण पद्धति में अंकन का शुद्ध (अमिश्रित) होना।

canon of relativity

सापेक्षता अभिनियम
वर्ग संख्या में अंकों की संख्या का निरूपित-वर्गों के क्रम का समानुपाती होना।

canon of relevance

प्रसंगानुकूलता अभिनियम
वर्गीकरण के आधार रूप में प्रयुक्त लक्षणों का वर्गीकरण के उद्देश्य के अनुसार प्रयोग करना।

canon of relevant sequence

प्रसंगोचित क्रम अभिनियम
वर्गीकरण के आधार रूप में प्रयुक्त लक्षणों का वर्गीकरण के उद्देश्य के अनुसार लगातार एक क्रम में प्रयोग करना।

canon of resolving power

विश्लेषण क्षमता अभिनियम
ज्ञान लोक के तात्कालिक प्रथम क्रम की पंक्ति में उपवर्गों को उनके उचित स्थान में प्रकट करने की विश्लेषण क्षमता।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App