भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

DEFINITIONAL DICTIONARY OF DRAMATICS-FILM AND TELEVISION (ENGLISH-HINDI) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous1234567897071Next >

A&B Roll

ए और बी रोल
पिक्चर नेगेटिव रोल को मुद्रण हेतु तैयार करना जिसमें शॉट बारी-बारी से आते हैं। उदाहरणार्थ शॉट संख्य 1,3,5 रोल ए में आते हैं एवं शॉट संख्या 2,4,6 रोल बी में आते हैं। रोल बी में शॉट 1 के स्थान पर फिल्म की ओपेक लंबाई शॉट 2 के आरंभ में बोड़ दी जाती हैं एवं रोल ए में शॉट 2 के स्थान पर फिल्म की ओपेक लंबाई शॉट 1 के अंत में जोड़ दी जाती हैं। इस मुद्रण विधि का प्रयोग जोड़ छिपाने के लिए किय जाता हैं अन्यथा 16 मि.मि नेगेटिव के मोनोपैक मुद्रण में नजर आते हैं।

Abacus

पटल, फलक
वह पट्टिका अथवा टेक् जो किसी स्तंभ के शीर्ष का निमार्ण करती हैं। यह कुछ क्लासिक शैलियों में वर्गाकार हो सकती है जिसके निचले किनारे मुड़े हुए हों तथ अन्य शैलियों में अवतल किनारों वाली हो सकती है जिसके कोर ढलवा हों।

Abbey

मठ
मठ – मठाश्रीश संचालित धार्मिक पंथों के भवनों का समूह।

Abbot

मठाधीश
मठ का प्रमुख।

Absorbent Cotton

अवशोषी रूई
सौंदर्य प्रसाधन छुड़ाने और स्पिरिट गम या रबड़ का प्रयोग करते हुए विभिन्न आकार या रुप गढ़ने में प्रयुक्त।

Absorption

अवशोषण
पदार्थ का वह मूलभृत गृण जिससे वह अपने ऊपर टकराने वाली ध्वनि तरंगों की ऊर्जा के एक भाग को या तो छितरा देता है अथवा उपयोग कर लेता है। ऊर्जा का शेष भाग उस पदार्थ के माध्यम से प्रतिबिंबित या प्रसारित होता है।

Absorption Circuit

अवशोषण परिपथ
विद्युत् चुंबकीय रूप से संलग्न एक समस्वरित परिपथ जो एक अन्य समस्वरित परिपथ से अवशोषित ऊर्जा को बिखरा देता है।

Absorption Coefficient

अवशोषण गुणांक
परवर्तित (या प्रसारित) ध्वनि ऊर्जा और प्रारंभिक आपतित ऊर्जा का अनुपात।

Abstract

अमूर्त
मूर्त – मान्य प्रतिमानों के विपरीत परिकल्पना।

Abstract Form

अमूर्त रूप

दृश्यों तथा ध्वनियों जिसमें रंग, आकृति तथा गति द्वारा ही अंत: संबंधता लाई गई हो।

Accent Colour

चटक, चटकीला रंग
आमतौर पर ऐसे तेज रंग जो रंग संयोजन में उभरकर आते हैं। इनका प्रयोग समग्र प्रभाव को उभारने के लिए होता हैं।

Acceptor Impurities

स्वीकारी अशुद्धि, ग्राही अशुद्धि
जर्मेनियम या सिलिकोन जैसे पदार्थ, जिनका उपयोग ट्रांजिस्टर और डायोड जैसि युक्तियों में होता है, ये अपने आप में विद्युत चालक नहीं होते। इनके क्रिस्टल आर्सेनिक और ऐन्टिमनि नियंत्रित मात्रा में मिला देने से ये अर्धचालक बन जाते हैं। इस अशुद्धि को स्वीकारी अशुद्धि (acceptor impurities) कहते हैं।

Access Time

अभिगम काल, एक्सेस टाईम
1. आँकड़ों का पढंना या लिखना शुरू करने के लिए डिस्क की सहत पर रीड/ राईट हैड की स्थिति पर एक भंडारण युक्ति के द्वारा लिया गया समय।
2. डिस्क – जैसे बुहत् भंडार से इच्छित डाटा पाने में लगने वाला समय।

Accompanist

संगतकार

समूह के मुख्य वादक / गायक को समूह में से ही किसी अन्य द्वारा टेक देने वाला।

Accumulator

संचायक, एक्युमुलेटर
संचायक 4-, 8-, 12 या 16 बिट की पंजी जो अंकगणितीय, तार्किक तथा निवेश-निर्गम क्रियाओं के लिए एक पंजी का काम करती है। आँकड़ों को शब्द – स्मृति से लाकर संचायक में या संचायक से शब्द में स्थानांतरित किया सकता है। अंकगणितीय और तार्किक क्रियाओं में दो ऑपरेंड शामिल होते हैं। एक संचायक में होता है, और दूसरा स्मृति से लाया जाता है। क्रिया का परिणाम संचायक में रोककर रखा जाता है। संचायक को प्रोग्राम नियंत्रण के अंतर्गत खाली, पूरित, परीक्षित, वर्घित या क्रमावर्तित किया जा सकता है। संचायक निवेश – निर्गम पंजी की तरह भी काम करता है। प्रोग्राम किए गए आँकड़े संचायक से होकर गुजरते हैं।

Acetate

एसिटेट
सजीव – चित्रण हेतु उपयोग मे लाई जाने वाली प्लास्टिक सामग्री। किसी दी गई पृष्ठभूमि पर वर्णै को अध्यारोपित करने हेतु भी इसका उपयोग किया जाता है।

Acetone

एसीटोन
1. जाली और बारीक वस्तुओं से स्पिरिट गम जैसे चिपकने वाले पदार्थ को साफ करने के लिए प्रचुक्त एक पारदर्शी द्रवा।
2. किसी भी तरह के मेकअप या सौंदर्य प्रसाधन लगाने से पहले तैलींय त्वचा पर सज्जा आघार रूप में लगाया जाने वाला द्रव। फ्रेशनर की अपेक्षा एस्ट्रिंजेंट में अल्कोहल की मात्रा अधिक होती है। प्राय: अधिकांशा एस्ट्रिंजेंट महिलाओं कि त्वचा के लिए बहुत तेज़ होते हैं।

Achromatic

अवर्णक
उदासीन रंग (सफेद,स्लेटी, काला) : रंगहीनता

Accoustic Absorptivity

देखें: एब्सॉर्पशान कोफिशिएन्ट।
ध्वनि अवशोषकता

Acoustic Abyrinth

ध्वनिक आवरण

एक-चौथाई तरंग-दैधर्य का ध्वनि मार्ग प्रदान करने वाले लाउडस्पीकर अनुलग्नक का आवरण जो स्पीकर पुष्ठभाग को एक पोता छिद्र ( पोर्ट होल) से जोडता है। इसका प्रभाव बेस अंश का प्रबलीकरण उस आवृत्ति पर करता है जिसके लिए मार्ग चौथाई तरंग के बराबर लंबा है। इसे बेस प्रतिवर्तन भी कहते हैं।
< previous1234567897071Next >

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App