भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous1234Next >

salic

सैलिक :
अंग्रेजी में “सिलिका” और “ऐलूमिना” शब्दों के आदि अक्षरों को मिला कर एक गढ़ा हुआ शब्द जो आग्नेय शैलों के C.I.P.W. वर्गीकरण तन्त्र में किसी शैल के नॉर्म में उन खनिओं के लिए प्रयुक्त किया जाता है जिनमें सिलिका और एलूमिना की प्रचुरता होती है, जैसे क्वार्ट्ज़, फेल्डस्पार, फेल्सपेथॉइड तथा कोरंडम । उसका विलोम शब्द “फेमिक” है ।

salt dome

लवण गुम्बद :
अवसादी शैलों को भेदता हुआ गुम्बदाकार लवण पिण्ड । इसका माप कई किलोमीटर तक होता है और इसके ऊपरी आवरण शैल में अपेक्षाकृत अल्प घुलनशील वाष्पीय खनिज होते हैं ।

sand

1. बालू, रेत, सिकता 2. रेणु
1. अपरदी (detrital) अवसाद का असंपिडित संचय जो सामान्यतः क्वार्ट्ज़ के कणों से निर्मित होता है ।
2. अवसादी शैलिकी में 1/16 मिoमीo से लेकर 2 मिoमीo तक ब्यास के साइज वाले अपरदी पदार्थ ।

sand dune

बालू टिब्बा :
वायु की क्रिया द्वारा, असंपिडित बालू से बना से बना हुआ टीला या कटक ।

sand reef (sand bar)

बालुका भित्ति :
बालु की रोधिका या कटक जो नदी की धाराओं द्वारा या तटीय जल तरंगों की क्रिया से पानी की सतह तक बन जाता है ।

sandstone

बालुकाश्म, बलुआ पत्थर :
रेणु साइज के कणों के परस्पर संयोजन (cementation) से निर्मित एक अपरदी अवसादी शैल जो मुख्यतः क्वार्ट्ज खनिज से संघटित होता है ।

sanidinite facies

सैनीडिनाइट संलक्षणी :
अत्यधिक उच्च ताप तथा निम्न दाब में निर्मित कायान्तरित शैलों की संलक्षणी जिसमें सैनीडिन प्रमुख खनिज होता है और क्लाइनों इन्सटेटाइट, क्लाइनोहाइपरस्थीन तथा क्लाइनोपाइरॉक्जीन इसमें सामान्य रूप से पाये जाते हैं ।

schillerization

शिलरी भवन :
खनिज क्रिस्टलों में सूक्ष्म अन्तर्वेशों (inclusion) के विन्यास से प्रतिफलित उनमें शिलरों (वर्ण विलास) का विकास ।

schist

शिस्ट :
शल्कित (foliated) संरचना से युक्त एक कायान्तरित शैल जिसमें चपटे खनिजों की प्रचुरता होती है । यह शैल प्रादेशिक कायान्तरण के फलस्वरूप निर्मित होता है और इसमें शिस्टाभ विदलन (cleavage) होता है ।

schictose

शिस्टाभ, शिस्टीय :
शिस्ट के गुणों वाला, उससे मिलता-जुलता, उससे संबंधित या उसकी प्रकृति का ।

sthistose structure

शिस्टाभ संरचना :
देखिए : ‘schistosity’

schistosity

शिस्टाभता :
किसी शल्कित शैल (foliated rock) का वह गुण जिसके कारण उसे पतले पत्रकों (flakes) में विभक्त किया जा सकता है । यह गुण उसके पटलित खनिजों के विदलन तलों की समान्तरता पर निर्भर करता है जिसके कारण उसमें शल्कन (foliation) उत्पन्न हो जाता है ।

scoria

स्कोरिया, सुषिर लावा :
ज्वालामुखी के विस्फोटी उद्गार से उत्क्षिप्त (thrown out) रूक्ष (rough) तथा सिंडर सदृश्य स्फोटगर्ती (vesicular) लावा खण्ड ।

scoriaceous

स्कोरियाई, सुषिरलावावत् :
स्कोरिया सदृश्य अथवा विभिन्न प्रमापों के स्फोटगर्तों से युक्त ।

scour and fill structure

निघर्ष-पूरण संरचना :
अपरदनात्मक प्रणाल से युक्त एक अवसादी संरचना । यह प्रणाल सामान्यतः दीर्घ वृत्तज (ellipsoidal) होता है और बाद में अवसादों से भर जाता है ।

secondary mineral

द्वितीयक खनिज, उन्तरजात खनिज :
प्राथमिक खनिज के परिवर्तन से बना हुआ खनिज । इस प्रकार मूल रूप में जो सल्फाइड होते हैं वे ऑक्सीकरण से सल्फेट, कार्बोनेट तथा आक्साइडों में परिवर्तित हो जाते हैं ।

secondary rock

द्वितीयक शैल, अवसादी शैल :
पूर्ववर्ती शैलों से व्युत्पन्न पदार्थों से निर्मित शैल । इसके अन्तर्गत अवशिष्ट, अवसादी तथा रासायनिक एवं जीवों की क्रिया से निर्मित या संचयित शैल सम्मिलित हैं ।

sedentary deposits

अनूढ निक्षेप :
वे निक्षेप जो बिना परिवहित हुए स्वस्थाने निर्मित हो जाते हैं । इस प्रकार के निक्षेप सामान्यतः अधस्थ शैलों (underlying rocks) के विघटन अथवा जैव पदार्थों के संचयन से बनते हैं ।

sediment

तलछट, अवसाद :
(क) किसी द्रव में निलम्बन (suspension) से नीचे बैठ जाने वाला ठोस पदार्थ ।
(ख) वह ठोस पदार्थ (खनिज तथा जैव दोनों प्रकार के) जो निलम्बन की अवस्था में, अपने उद्गम स्थल से दूर वायु, जल या हिम द्वारा परिवाहित होकर भू-पृष्ट पर संचित हो जाता है ।

sedimentary

तलछटी, अवसादी :
(क) अवसाद से संबंधित या उससे युक्त ।
(ख) अवसाद के निक्षेपों से अथवा अवसादों द्वारा निर्मित ।
< previous1234Next >

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App