भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

kaolin

केओलिन :
एक सफेद या लगभग सफेद रंग का मृत्तिका-शैल जो कि अतिफेल्डस्पारी शैलों के अपघटन के फलस्वरूप बनता है । इसे पोर्सलेन का पेस्ट बनाने के काम में लाया जाता है ।

kamptomorphic

नमितरूपी :
कायांतरित शैलों में उन खनिओं से संबंधित एक शब्द जिनका रूप या आकार कायांतरण के दौरान बिना टूटे हुए ही परिवर्तित हो जाता है । ऐसे खनिज सामान्यतः मुड़े हुए होते हैं और तरंगी विलोपन दर्शाते हैं ।

katazone

निम्न मंडल :
प्रमुखतः अत्यधिक ताप, जल स्थैतिक दाब और अल्प प्रतिबल से युक्त कायांतरण का गभीरतम क्षेत्र ।

katamorphism

निम्न कायांतरण :
वह कायांतरण जिसमें जटिल खनिज सरल खनिजों की श्रेणी में परिवर्तित हो जाते हैं ।

katamorphic zone

निम्न कायांतरण ज़ोन :
पृथ्वी की पर्पटी में लगभग 12 किलो मीटर की गहराई पर घटित होने वाले कायांतरण का एक क्षेत्र ।

keratophyre

केरैटोफ़ायर :
उन ट्रैकाइटी शैलों के लिए प्रयुक्त एक नाम जिनमें अधिकांश लक्ष्यक्रिस्टल (phenocryst) सोडियम फेल्डस्पार होते हैं तथा आधात्री में एलबाइट अथवा फेल्डस्पार एवं द्वितीयक उत्पत्ति के क्लोराइट, एपिडोट और कैल्साइट विद्यमान रहते हैं ; ये सम्भवतः स्पिलाइटी शैलों से सम्बद्ध तथा समुद्री अवमादों के साथ अन्तरास्तरित होते हैं ।

khondalite

खोंडालाइट :
वह कायांतरित शैलसमूह जिसमें गार्नेट-क्वार्ट्ज-सिलीमेनाइट (sillimanite) खनिजों के साथ ग्रेफाइट, शिस्ट, क्वार्टजाइट और संगमरमर सम्मलित रहते हैं । इस शैल का नामकरण दक्षिण भारतीय खोण्ड जन जाति से किया गया है ।

kimberlite

किम्बरलाइट :
एक पॉर्फिराइटी-पेरिडोटाइट जिसमें रूपांतरित ऑलिवीन और फ्लोगोपाइट के लक्ष्य क्रिस्टलों की प्रधानता होती है तथा आधात्री में सूक्ष्मकणिक कैलसाइट एवं द्वितीयक उद्गम के ऑलिवीन और फ्लोगोपाइट तथा गौण मात्रा में इल्मेनाइट, सरपेन्टीन, क्लोराइट मैग्मेटाइट और पेरोवस्काइट (perovaskite) होते हैं । इस शैंल का नामकरण दक्षिण अफ्रीका के किम्बरले स्थान से किया गया है तथा इसमें प्रायः हीरा विद्यमान होता है ।

kinematic differentiation

शुद्धगतिक विभेदन :
मैग्मा संचलन के दौरान उत्पन्न विभेदन जो उस समय घटित होता है जब गलित शैल पदार्थ विभिन्न संघटन वाले गठन की पट्टियों और श्लीरेन (सूत्रिल अंतर्वेश) के रूप में पृथक्कृत हो जाते हैं ।

kinetic metamorphism

गतिजकायांतरण :
(क) देखिए ‘cataclastic metamorphism’
(ख) क्षेत्रीय अपरूपण (shearing) के दौरान ताप व दाब के प्रभाव से विकसित कायांतरण का एक प्रकार ।

kodurite

कोडूराइट :
एक स्थूल कणिकीय संदिग्ध उत्पत्ति का क्रिस्टलीय शैल जिसमें पोटाश फेल्डस्पार, मैंगनीज, गार्नेट व एपेटाइट होता है । यह शैल भारत के विशाखापटनम क्षेत्र में स्थित कोडूर खान में पाया जाता है ।

krithic texture

क्रिथीक गठन :
माइका के पतले पत्रकों से घिरे आर्थोक्लेज के छोटे कणों से निर्मित कायांतरित गठन ।

kyanite-sillimanite type facies series

कायनाइट-सिलीमेनाइट प्ररूप संलक्षणी श्रेणी :
एक ऐसी संलक्षणी श्रेणी जिसके पैलाइटी शैलों में कायनाइट सिलीमेनाइट विशेष रूप से विद्यमान होते हैं ।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App