भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

autopneumatolysis

स्वतः ऊष्ण वाष्पखनिजन :
किसी आग्नेय शैल में उसके अपने ही गैसीय खनिजकारी कारकों की क्रिया से नये खनिजों का निर्माण ।

axial angle

अक्षीय कोण :
किसी द्वि-अक्षीय क्रिस्टल में दो प्रकाशिक अक्षों के बीच का कोण ।

axial plane schistosity

अक्षीय तल शिष्टाभता :
वलनों के अक्षीय तल के समान्तर विकसित शिष्टाभता ।

acial ratio

अक्षानुपात :
(क्रिस्टलिकी में) पार्श्व अक्षों में से किसी एक को इकाई मानकर उसके साथ किसी क्रिस्टल-संरचनात्मक अक्ष की लम्बाई की तुलना से प्राप्त अनुपात ।

azonal soil

असुस्तरी मृदा :
एक अपरिपक्व मृदा जिसका प्रोफ़ाइल सुविकसित नहीं होता इसमें सामान्यतः आधार शैल या असंपिडित (unconsolidated) पदार्थ के ऊपर A-संसत्र मिलता है ।

bahada

बहादा :
श्रेणीबद्ध जलोढ पंखों के संलयन (coalescence) से निर्मित जलोढ एप्रन जो गिरिपाद के साथ साथ फैला होता है ।

balanced reaction

संतुलित अभिक्रिया :
एक ऐसी उत्क्रमणीय (reversible) अभिक्रिया जो ऐसी परिस्थितियों में घटित होती हैं जिसमें एक दिशा में परिवर्तित अभिकारकों (reagent) की मात्रा विपरीत दिशा में परिवर्तित अभिकारकों की मात्रा के समतुल्य होती है ।

ball and pillow structure

कंदुक एवं शिरोधानी संरचना :
परतदार शैलों में पायी जाने वाली गेंद व तकिये के आकार की संरचना जो शैल परत के ठोस होने से पूर्व विरूपण (deformation) के फलस्वरूप बनती हैं ।

banded

पट्टित :
(शैल) गठन में भिन्नता के कारण संस्तरण के समांतर पट्टियां अथवा पट्ट प्रदर्शित करने वाला ।

banded structure

पट्टित संरचना :
सुस्पष्ट परतों या पट्टियों से युक्त शिराओं या संग्रथनों के लिए प्रयुक्त एक शब्द । इस प्रकार की संरचनाएं अनुक्रमिक निक्षेपण या कुछ पूर्ववर्ती शैलों के प्रतिस्थापन के कारण बन जाती हैं । जैसे-ग्रेनाइट नाइस ।

barrier reef

प्रवाल रोधिका :
समुद्र तट के समांतर प्रवाल-भित्ति जो एक अत्यधिक गहरे एवं चौड़े लैगून द्वारा तट से प्रथक्कृत रहती है ।

basal plane

आधारी तल :
किसी क्रिस्टल के पार्श्विक अथवा क्षैतिज अक्षों के समांतर तल ।

basalt

बेसाल्ट :
सूक्ष्मकणिक से लेकर काचीय गठन का एक असितवर्णी (dark coloured) आग्नेय शैल जो कैल्सिक प्लेजियोक्लेज तथा पाइरॉक्सीन से अनिवार्यतः संघटित होता है । इसमें यदाकदा ऑलिवीन भी हो सकता है और एपाटाइट तथा मैग्नेटाइट खनिज प्रायः गौण खनिज के रूप में मिलते हैं ।

basement complex

आधार जटिल शैल संघ :
किसी क्षेत्र विशेष में अवसादी शैलों के नीचे स्थित तथा जटिल संरचनाओं से युक्त, अज्ञात आयु की अति प्राचीन कायांतरित एवं आग्नेय शैलों की श्रेणी ।

basic rock

अल्पसिलिक शैल :
वह आग्नेय शल जिसमें अल्प सिलिकीय तथा प्रचुर धात्विक क्षारकों वाले खनिज जैसे ऐम्फ़िबोल, पाइरॉक्सीन, बायोटाइट तथा ऑलिविन अपेक्षतया प्रचुर यात्रा में होते हैं । इन शैलों में सिलिका की मात्रा 45%-52% तक होती है ।

basin

द्रोणी, बेसिन :
(क) भू-पर्पटी में एक प्रायः तश्तरीनुमा गर्त जो तली के धंसने के फलस्वरूप बनता है ।
(ख) किसी बड़ी नदी तथा उसकी सहायक नदियों का अपवाह क्षेत्र ।
(ग) वह अवनमित भू-क्षेत्र जिसमें सभी स्तर चारों ओर से भीतर की ओर नत होते हैं ।

basiophitic texture

बेसीऑफ़िटिक गठन :
एक विशेष आग्नेय शैल-गठन जिसमें पाइरॉक्सीन के क्रिस्टल प्लेजिओक्लेज की पट्टियों के अन्तराकाशों में स्थित होते हैं ।

batholith (bathylith)

महास्कंध, बैथोलिथ :
अदृश्य आधार वाला एक अति विशाल, अनियमित रूपी तथा अननुस्तरी (discordant) वितलीय पिंड जिसका व्यास गहराई के साथ-साथ बढ़ता जाता है और जो सामान्यतः ग्रेनाइट या ग्रेनोडायोराइट से संघटित होता है । पृष्ठ पर इसके अनावरण का क्षेत्रफल 100 वर्ग किoमीo से अधिक होता है ।

bauxite

बॉक्साइट :
जलीय ऐलूमिनम आक्साइडों से समृद्ध एक शैल जो मुक्त सिलिका, मृत्तिका, सिल्ट तथा लौह हाइड्रॉक्साइडों के रूप में अपद्रव्यों से युक्त होता है । इसका रासायनिक संघटन मुख्तः Al2O32H2O होता है और यह संग्रथित कणों, अंडकों, पपड़ियों तथा सरंध्र पिडों के रूप में पाया जाता है । यह शैल व्यापार और उद्योगों में प्रयुक्त होने वाले ऐलुमिनम का एक मुख्य स्रोत है ।

beach chutes

पुलिन प्रवणिका :
सपाट, उथली अपवाह नलिकायें (drainage channel) जो पुलिन के तरंग चिह्रों को उच्च कोण पर काटती हैं ।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App