भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

amygdaloidal basalt

वातामकी बैसाल्ट :
वातामकी संरचना से युक्त सूक्ष्मकणिक अपॉफिराइटिक बैसाल्ट जिसकी गुहिकाएं प्रायः क्वार्ट्य, कैल्साइट, क्लोराइट या जिओलाइट से पूरित रहती है ।

anamorphic

जटिलकायांतरी :
जटिल कायांतरण से संबंधित या उसके लक्षणों को प्रदर्शित करने वाला ।

anamorphic zone

जटिल कायांतरी मंडल :
पृथ्वी के भीतर अत्यधिक गहराई में शैल-प्रवाह-मण्डल जिसमें सरल खनिजिकीय यौगिक सिलिकेटीभवन, विकार्बनन, निर्जलीभवन और विऑक्सीभवन द्वारा परिणत होकर अत्यंत जटिल खनिओं का निर्माण करते हैं ।

anamorphism

जटिलकायांतरण :
भूपर्पटी की अत्यधिक गहराई में शैलों का रचनात्मक कायान्तरण जिसमें सरल खनिज परिणत होकर जटिल खनिजों का निर्माण करते हैं ।

anatectic batholith

पुनर्गलित बैथोलिथ :
मिग्मेटाइट संकुल (pack) के आधार में रचित ग्रेनाइट बैथोलिथ जिसका गठन एवं सीमाएं परिवर्तनशील तथा अस्पष्ट होती हैं ।

anatectic granite

पुनर्गलित ग्रेनाइट :
(क) मैग्मीय ग्रेनाइट से भिन्न मिग्मेटाइट ग्रेनाइय ।
(ख) मिग्मेटाइट का निम्नतम मण्डल (aureole) जहां पर शैलों का स्वरूप ग्रेनाइटी होता है तथा एक्टीनिटी गठन पूर्णतः विलुप्त रहता है ।

anatexis

पुनर्गलन :
एक अतिकायांतरित प्रक्रम जिसके द्वारा गभीरस्थ शैल संगलित होकर पुनः मैग्मा में परिवर्तित हो जाते हैं ।

andesite

ऐन्डेजाइट :
एक काले भूरे रंग का बहिवेंधी शैल जो ऑलिगोक्लेज या ऐन्डेजिन फैल्सपार से अनिवार्यतः संघटित होता है । इसके अतिरिक्त इस शैल में कुछ मैफिक घटक भी विद्यमान रहते हैं जिनमें पाइरॉक्सीन, हार्नब्लेण्ड या बायोटाइट मुख्य हैं ।

anadesite basalt

ऐन्डेजाइट बेसाल्ट :
मुख्यतः ऐन्डेजाइट युक्त बेसाल्ट । यह एक प्रकार का सूक्ष्मकणिक आग्नेय शैल है जो पृथ्वी की सतह पर उद्गीर्ण (erupted) लावा से उत्पन्न होता है ।

anhedral

अफलकीय :
देखिए : ‘allotriomorphic’

anhedron

अफलक :
किसी आनेय शैल का वह खनिज-घटक जिसमें फलकों का बाह्य ज्यामितिरूप वैसा न विकसित हो पाया हो जैसा कि एक सामान्य क्रिस्टल में होना चाहिए ।

anisomerous

समावयवी :
शैलों के कणिकीय गठन से संबंधित एक शब्द जिसमें कणों के माप की विविधता का परास (range) बहुत अधिक होता है ।

anisometric

त्रिसमलंबाक्षेतर :
असममितिक भागों वाला; जो त्रिसमलंबाक्ष न हो ।

anisotropic

विषमदैशिक :
उन पदार्थों के लिए प्रयुक्त एक शब्द जो विभिन्न दिशाओं में विभिन्न प्रकाशीय या अन्य भौतिक गुणधर्म प्रदर्शित करते हैं । यह गुणधर्म त्रिसमलंबाक्ष समुदाय के खनिजों को छोड़कर सभी क्रिस्टलीय खनिओं का एक विशिष्ट लक्षण है ।

anorthosite

एनॉर्थोसाइट :
एक कणिकामय बितलीय शैल (plutonic rock) जो लगभग पूर्णतः प्लैजिओक्लेस से संघटित होता है ।

antidune

प्रति टिब्बा :
उपरि जलप्रवाह अवस्था में बनने वाली अवसादी संरचना जो तरंग की विपरीत दिशा में विन्यस्त होती है ।

aphaneric

अदृश्यक्रिस्टली :
देखिए : ‘aphanitie’

aphanitic

अदृश्यक्रिस्टली :
उन शैलों के गठन के लिए प्रयुक्त एक विशेषण जिनके अलग-अलग कण या क्रिस्टल बिना लेन्स की सहायता से पहचाने नहीं जा सकते ।

aphyric

अफ़ायरी :
उन अदृश्यक्रिस्टली गठन वाले शैलों के लिए प्रयुक्त एक विशेषण जो प्रायः क्रिस्टलित तो होते हैं परन्तु उनमें लक्ष्यक्रिस्टल (phenocrysts) नहीं होते ।

apomagmatic

अपमैग्मी :
परोक्ष रूप से मैग्मा से संबंधित ।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App