भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Petrology (English-Hindi)(CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

lithomarge

लिथोमार्ज :
सामान्य कैओलिन की एक चिकनी व दृढ़ीभूत किस्म जिस का कुछ भाग के ओलिनाइट एवं हैलोइजाइट के मिश्रण से युक्त होता है ।

lithophile element

अश्मरागी तत्व :
वे तत्व जिनमें लोहे की अपेक्षा प्रतिग्राम ऑक्सीजन में ऑक्सीकरण की मुक्त उर्जा अधिक होती है । ये ऑक्साइड अथवा ऑक्सीलवण के रूप में मिलते हैं जैसे सिलिकेट खनिज । ये तत्व आश्मिक उल्कापिण्डों तथा भूपटल में सान्द्रीभूत रहते हैं ।

lit-par-lit structure

स्तरानुस्तर संरचना :
शल्कित (foliated) या विखंड्य शैलों में प्रदर्शित होने वाली एक संरचना । यह संरचना इन शैलों के असंख्य अवांतर स्तरों (partings) के अनुदिश मैग्मा की चादरों तथा जिह्वाओं के अन्तर्वेधन के कारण दिखाई पड़ती है और यह आमतौर पर शिस्टाभ (schistose) शैलों में पाई जाती है ।

littoral

वेलांचली :
तट या तटीय प्रदेश से सम्बन्धित अथवा वहां पर स्थित । इस शब्द का प्रयोग विशेष रूप से उच्च और लघु ज्वारों की सीमाओं के बीच नितलस्थ (benthonic) वातारण के लिए भी किया जाता है ।

littoral deposit

वेलांचली निक्षेप :
समुद्र तट के निकट निर्मित निक्षेप जो प्रायः तरंग-क्रिया के प्रभाव के अन्तर्गत बनता है ।

littoral zone

वेलांचल :
समुद्री क्षेत्र का वह भाग जो उच्चतम तथा निम्नतम ज्वारभाटा तलों के बीच में स्थित होता है ।

load cast

लोहकास्ट, भार संच :
एक तली चिह्र (Sole marks) जो भारी बालू के पंक में नीचे की ओर धसने से बनता है । इसका आकार नीचे की ओर सामान्यतः गोलीय होता है ।

load metamorhpism

भार कायांतरण :
कायांतरण की विस्तृत प्रकृति वाली प्रक्रिया जो उपरि संस्तरों के उर्ध्वाधर दाब तथा अवसादी जमाव की गहराई में बढ़ते हुए तापमान के प्रभाव से घटित होती है । इस प्रकार के कायांतरण से प्रतिफलित शैलों के संस्तरों में अनुस्तरता तथा शिस्टाभता पायी जाती है ।

loess

लोएस :
वायु द्वारा निक्षेपित, मुख्यतः सिल्ट की साइज के शैल-कर्णों तथा खनिजकणों से संघटित एक असंपिडित तथा अस्तरित अवसादी निक्षेप जिसमें सामान्यतः थोड़ी बहुत मात्रा में सूक्ष्मबालू और मृत्तिका भी मिली होती है । इसका रंग हल्का भूरा, पीला, या धूसर होता है और इसकी विशेषता यह है कि यह अत्यन्त प्रवण या सीधे खड़े ढालों पर टिका रह सकता है ।

lopolith

लोपोलिथ :
विशाल तली वाला अन्तर्वेधी पिंड (intrusive body) जो कि मध्य से धंसा हुआ होने के कारण द्रोणी के आकार का होता है ।

lutaceous

पंकमय :
किसी सूक्ष्मकणिक गठन का वर्णन करने के लिए एक विशेषण जो विशेष रूप से (परन्तु एक मात्र नहीं) सिल्टों और मृत्तिकाओं तथा उनसे व्युत्पन्न पदार्थों के लिए प्रयुक्त होता है ।

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App