भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

भारतवाणी परियोजना द्वारा आयोजित प्रमुख कार्यक्रमों, कार्यशालाओं की सूची | List of major events, workshops conducted by Bharatavani Project during 2016-17

भारतीय भाषाओं के संरक्षण, संवर्धन एवं तकनीकी विकासविषय पर राष्ट्रीय संगोष्ठी (25 मई 2016, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ)

National Seminar  on  “Preservation,  Promotion  and  Technological  Development  of  Indian  Languages” (25th May, 2016, BBAU, Lucknow)

दिनांक 25 मई 2016 को भारतवाणी परियोजना पोर्टल के लोकार्पण के अवसर पर “भारतीय भाषाओं के संरक्षण, संवर्धन एवं तकनीकी विकास” विषय पर एक-दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ में किया गया। संगोष्ठी का उद्घाटन प्रो. बी. एन. पटनायक (सेवानिवृत्त), भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर ने किया। वरिष्ठ विद्वानों, विषय विशेषज्ञों, भाषावैज्ञानिकों, वरिष्ठ अधिकारियों एवं शिक्षाविदों ने संगोष्ठी में सहभागिता की तथा उक्त विषय पर अपने विचार रखे।

A one day National Seminar on “Preservation, Promotion and Technological Development of Indian Languages” was held at BBAU, Lucknow, on 25th May 2016, on the eve of the launching of the Bharatavani Project Portal. Prof. B.N. Patnaik, Former Professor, IIT Kanpur inaugurated this seminar. Leading academicians, subject experts, linguists, senior officers and educationists participated in this seminar and presented their views on the topic.

भारतवाणी पोर्टल का लोकार्पण : 25 मई 2016, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ          

Launching of the Bharatavani Portal: 25th May, 2016, BBAU, Lucknow

Hon’ble Minister of HRD, Smt. Smriti Zubain Irani, launching the Bharatavani Website at Baba Saheb Bhimrao Ambedkar University, Lucknow on May 25th , 2016.

भारतवाणी पोर्टल का लोकार्पण श्रीमती स्मृति जुबीन इरानी, माननीय मानव संसाधन विकास मंत्री, के कर-कमलों द्वारा दिनांक 25 मई 2016 को किया गया। यह कार्यक्रम बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ के सभागार में संपन्न हुआ जिसमें बहुत अधिक संख्या में छात्र, शिक्षक एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Bharatavani Portal was launched on 25th May 2016, by Smt Smriti Zubin Iraniji, Hon’ble Union Minister of HRD. This event held at the Auditorium of Bhimrao Babasaheb Ambedkar University, Lucknow, was attended by a large number of students, teachers, academicians and general public.

डॉ. राम दयाल मुंडा की 77 वीं जयंती के अवसर पर राँची में आयोजित कार्यक्रम में भारतवाणी की सहभागिता : 20-23 अगस्त 2016, राँची

Participation of Bharatavani in Ranchi during the 77th Birth Anniversary of Dr Ram Dayal Munda:20-23 August, 2016, Ranchi

डॉ. राम दयाल मुंडा की स्मृति में आयोजित जनजातीय सांस्कृतिक कार्यक्रम में भारतवाणी परियोजना के सदस्यों नें सहभागिता की। कार्यक्रम का आयोजन 20-23 अगस्त, 2016 के दौरान राँची में किया गया था। इस कार्यक्रम में भारतवाणी का एक स्टाल भी स्थापित किया गया था तथा विभिन्न जनजातीय समुदायों द्वारा प्रयुक्त भाषाओं के लेखकों से संपर्क स्थापित किया गया।

Bharatavani Project team participated in the tribal cultural events organised in memory of Dr Ram Dayal Munda at Ranchi from 20-23 August 2016. A Bharatavani stall was installed and significant networking was done among tribal language writers.

पूर्वोत्तर भारतीय भाषा अधिगम सुविधा का शुभारंभ :  17 सितंबर, 2016, भारतीय भाषा संस्थान, मैसूर

Launching of Learning facilities for Languages of North Eastern India : 17th September, 2016, CIIL, Mysuru

Launching of Manipuri online Programme website by the Governor of Nagaland, Sri. P..B. Acharya through Skype with the collaboration with CIIL, Mysore from NITTE University, Surathkal, Mangalore. Mrs. Acharya and the Vice Chancellor of NITTE Unversity can be seen.
Participants during the launch of the MOP website. Dr. Narayan Choudhary, AD(A)i/c, Dr L. Ramamoorthy, RRO , Shri V V Bhat, Senior Consultant and others participated.

भारतवाणी परियोजना की एक पहल के रूप में “पूर्वोत्तर भारतीय भाषा अधिगम सुविधा” का लोकार्पण श्री पद्मनाभ आचार्य, महामहिम राज्यपाल, नागालैण्ड द्वारा किया गया। यह लोकार्पण एनआईटीटीई विश्वविद्यालय, मंगलुरू तथा सीआईआईएल, मैसूर के बीच वीडियो कॉन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से किया गया। इस अवसर पर दो सब-डोमेन kokborok.bharatavani.in तथा nagaland.bharatavani.in एवं  मणिपुरी भाषा अधिगम प्रोग्राम (mop.ciil.org)  का लोकार्पण किया गया।

His Excellency Shri Padmanabha Acharya, Hon’ble Governor of Nagaland, launched “Learning facilities for Languages of North Eastern India”, an initiative under Bharatavani Project. The launch of these facilities took place through a video conference between NITTE University at Mangaluru and CIIL at Mysuru. Two sub-domains kokborok.bharatavani.in and nagaland.bharatavani.in and a Manipuri Learning Programme (mop.ciil.org) were launched.

श्री भूवालया पर अनुसंधान : विद्वानों द्वारा कार्य योजना का निर्धारण : 27 सितंबर, 2016, मैसूर

Research on `Siri Bhoovalaya’: Scholars decide to device Action Plan : 27th September, 2016,Mysuru

Prof.D.G.Rao, Director, CIIL inaugurating the workshop on “Potentials of Siri Bhoovalaya for Application and Research in Linguistics and Computer Science” on 27th September, 2016 at CIIL Mysore. Shir V.V. Bhat, Senior Consultant , CIL and Dr.CSR Prabhu, Senior Scientist, NIC, Hyderabad can also be seen.

पूर्व काल में किए गए एक विद्वतापूर्ण कार्य श्री भूवालया पर आधारित “भाषा विज्ञान एवं कंप्यूटर विज्ञान में अनुप्रयोग एवं अनुसंधान हेतु श्री भूवालया की संभाव्यता” विषय पर भारतवाणी परियोजना के तत्वावधान में भारतीय भाषा संस्थान, मैसूर में दिनांक 27 सितंबर, 2017 को एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का उद्देश्य “श्री भूवालया” पर समर्पित रूप से विगत कई वर्षों से अनुसंधान कर रहे विद्वानों को बुलाना था। विद्वानों के इस समूह में वैज्ञानिक, तकनीकी विशेषज्ञ, भाषा विशेषज्ञ एवं भाषाविद् शामिल थे। अनुसंधान हेतु कई विषयों जैसे तालिकाओं का डिजिटलीकरण, भाषायी अध्ययन उपकरण, भारतीय वेब आदि की पहचान की गई।

A brain storming workshop “Potentials of Siri Bhoovalaya for Application and Research in Linguistics and Computer Science” on the ancient work “Siri Bhoovalaya” was conducted at the Central Institute of Indian Languages, Mysuru, and it was organized by Bharatavani on 27th  of September, 2016. The intention of this internal workshop was to bring the minds who have been dedicatedly working on Siri Bhoovalaya for years. This group of dignitaries included scientists, scholars, technocrats, language experts and linguists. Many topics like Digitisation of the tables, language research engine, Bharatiya web were identified to be taken for research exploration

सीआईआईएल के प्रतिनिधिमंडल का नागालैंड दौरा : 4 अक्टूबर, 2016, कोहिमा

CIIL delegation in Nagaland : 4th October, 2016, Kohima

With Governor of Nagaland, P.B.Acharya with Director of CIIL, Prof.D.G. Rao, Dr.L.Ramamoorthy, RRO, Shri.V.V.Bhat, Senior Consultant, CIIL, Sri Beluru Sudarshana, Consultant, Bharatavani Project, Dr. Chandan Singh and Dr. Hidam Dolen Singh.

श्री पी बी आचार्य, माननीय राज्यपाल, नागालैंड, के निमंत्रण पर प्रो. डी जी राव, निदेशक, सीआईआईएल, के नेतृत्व में अधिकारियों के एक शिष्टमंडल ने 4 अक्टूबर 2016 को कोहिमा का दौरा किया। राजभवन में आयोजित बैठक में नागालैंड के कई शिक्षाविदों और अधिकारियों ने हिस्सा लिया। इस बैठक में यह निर्णय लिया गया कि नागालैंड विश्वविद्यालय के सहयोग से अंगामी / तेन्यिदे ऑनलाइन लर्निंग प्रोग्राम को एक वर्ष के भीतर विकसित किया जाएगा।

A team of CIIL officials, led by Director Prof. D G Rao visited Kohima, on the invitation of Shri P B Acharya, Hon’ble Governor of Nagaland on 4th October 2016. Several Academicians and Officials took part in the meeting. It was decided to develop Angami/Tenyidie Online Learning Programme within a year, with the support of Nagaland University.

मणिपुरी ऑनलाइन कार्यक्रम हेतु लिपि और पाठ संरचना की तैयारी (मीतई मयक)के संदर्भ में कार्यशाला : 22 नवंबर – 1 दिसंबर 2016, इम्फाल

Workshop On “Preparation of Script and Structure Lessons (Meetei Mayek) for Manipuri Online Programme”: 22 November – 1 December 2016, Imphal

Participants of Manipuri Online Learning Workshop which was held recently in Manipur

मणिपुरी ऑनलाइन कार्यक्रम को समृद्ध करने के लिए, मणिपुर विश्वविद्यालय, इंफाल में नवंबर 2016 के चौथे सप्ताह में “मणिपुरी ऑनलाइन कार्यक्रम हेतु लिपि और पाठ संरचना की तैयारी (मीतई मयक)” के संदर्भ में दस दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

To strengthen the Manipuri Online Programme, a Ten Day Workshop On “Preparation of Script and Structure Lessons (Meetei Mayek) for Manipuri Online Programme” was conducted in the Fourth Week of November 2016, at Manipur University, Imphal.

भारतवाणी सलाहकार की भोपाल, इंदौर और उज्जैन यात्रा : 9-14 नवंबर 2016

Consultant’s Visit to Bhopal, Indore and Ujjain : 9-14 November 2016

भारतवाणी परियोजना के सलाहकार ने मध्य प्रदेश का दौरा किया और विभिन्न ज्ञान संस्थानों के प्रमुखों से मुलाकात की। इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश हिंदी ग्रंथ अकादमी, भोपाल के साथ कॉपीराइट समनुदेशन विलेख पर हस्ताक्षर कराना था। विभिन्न संस्थानों और विद्वानों के साथ संपर्क स्थापित करने के लिए उन्होंने राष्ट्रीय विचारकों की बैठक लोकमंथन में भी सहभागिता की।

Bharatavani Project’s consultant visited Madhya Pradesh and met with several heads of Knowledge institutions. Signing of DOA with Hindi Granth Academy was the highlight of this visit. He also participated in the National Thinkers’ meet Lokmanthan to network with individuals and institutions.

भारतवाणी के प्रचार हेतु सीआईआईएल / बीवीपी टीम द्वारा रायचूर में आयोजित अखिल भारतीय कन्नड़ साहित्य सम्मेलन में सहभागिता : 2-4 दिसंबर, 2016

Bharatavani Campaign at All India Kannada Sahitya Sammelana at Raichur by CIIL/BVP team : 2-4 December, 2016

भारतवाणी सलाहकार सहित सीआईआईएल की एक टीम ने रायचूर में आयोजित 85 वें अखिल भारतीय कन्नड़ साहित्य सम्मेलन में भाग लिया और भारतवाणी ऐप, पोर्टल और सीआईआईएल के प्रकाशनों को बढ़ावा देने के लिए एक स्टाल लगाया। इस अवसर पर संक्षिप्त कन्नड शब्दकोश का लोकार्पण कन्नड साहित्य परिषद द्वारा तथा एंड्रॉइड ऐप के रूप में भारतवाणी परियोजना द्वारा किया गया।

A team from CIIL including the Consultant participated in the 85th All India Kannada Literary Conference held at Raichur and put up a stall to promote Bharatavani App, Portal and CIIL publications. A Concise Kannada Dictionary published by the organiser Kannada Sahitya Parishattu was also released by Bharatavani in the form of a Android App.

Languages

Dictionary Search

Loading Results

Quick Search

Follow Us :   
  भारतवाणी ऐप डाउनलोड करो
  Bharatavani Windows App